इंटरनेशनल टी-20 क्रिकेट में न्यूज़ीलैंड के हाथों टीम इंडिया की अब तक की सबसे बड़ी हार

वेलिंग्टनः न्यूजीलैंड ने टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में भारत को 80 रन से शिकस्त दी. ये टी 20 मैचों में भारतीय टीम की सबसे करारी शिकस्त थी. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को साल 2010 में 49 रन से हराया था. इसके बाद साल 2016 में टीम इंडिया की ब्लैक कैप्स ने ही 46 रन से मात दी थी. इतना ही नहीं, टीम इंडिया ने सबसे ज्यादा टी-20 मुकाबले न्यूजीलैंड के खिलाफ ही गंवाए हैं. भारत अब तक न्यूजीलैंड से कुल 7 टी-20 मैच हारा है. हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ भी टीम इंडिया ने टी-20 क्रिकेट में इतने ही मैच हारे हैं. वहीं, ऑस्ट्रेलिया से टीम इंडिया को 6 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है.

इस जीत के साथ न्यूजीलैंड ने 3 मैचों की सीरीज में 1-0 से की बढ़त हासिल कर ली है. वेस्टपैक स्टेडियम में 220 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 19.2 ओवर में 139 रन बनाकर ढेर हो गई. भारत के लिए महेंद्र सिंह धोनी (39) ने सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने 31 गेंदों की अपनी पारी में 5 चौके और 1 छक्का लगाया. भारत की खस्ता हालत का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उसके 7 खिलाड़ी दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके. भारत ने बेहद खराब शुरुआत की और उसने पहला विकेट 18 के कुल स्कोर पर गंवा दिया. सलामी बल्लेबाज रोहित  5 गेंदों में  1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. उन्हें तीसरे ओवर में टीम साउदी ने लॉकी फग्र्यूसन के हाथों लपकवाया.

इसके बाद शिखर धवन (29) ने विजय शंकर (27) के साथ पारी को आगे बढ़ाया. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 33 रन की साझेदारी कर टीम को 50 रन के पार पहुंचाया. लेकिन  शिखर 51 के कुल स्कोर पर अपना विकेट गंवा बैठे. उनके आउट होते ही  टीम लड़खड़ा गई और नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे. ऋषभ पंत (4), दिनेश कार्तिक (5), हार्दिक पांड्या (4) के आउट होने के बाद भारतीय पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गई. भारत के 6 खिलाड़ी 100 रन से पहले ही पवेलियन लौट गए थे हालांकि, चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए धोनी ने एक छोर संभाले रखा. उन्होंने सातवें विकेट के लिए क्रुणाल पांड्या (20) के साथ 52 रनों की साझेदारी कर टीम 100 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई.

आठवें नंबर पर आए भुवनेश्वर कुमार (1) भी टिककर बल्लेबाजी नहीं कर सके और जल्द ही आउट हो गए. धोनी का विकेट 136 रन के कुल स्कोर पर गिरा. इसके बाद डार्ले मिशेल ने युजवेंद्र चहल (1) को बोल्ड कर भारत की पारी को समेट दिया. न्यूजीलैंड के लिए टिम साउदी ने शानदार गेंदबाजी की. उन्होंने 3 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई. साउदी के अलावा मिशेल सैंटनर, लॉकी फग्र्यूसन और ईश सोढ़ी ने दो-दो विकेट झटके जबकि डार्ले मिशेल ने एक विकेट चटकाया.

इससे पहले टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने टिम सेइफेर्ट (84) की लाजवाब पारी के दम पर निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट गंवाकर 219 रन बनाए. यह किवी टीम का खेल के सबसे छोटे प्रारूप में अभी तक का सर्वोच्च स्कोर है. इससे पहले टी-20 में उसका सर्वोच्च स्कोर 215 था, जो उसने 10 मार्च 2018 को श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में बनाया था.


[jetpack_subscription_form title="Subscribe to Marginalised.in" subscribe_text=" Enter your email address to subscribe and receive notifications of Latest news updates by email."]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.