पुस्तक चर्चा/ निर्मल वर्मा का कहानी संग्रह “परिंदे”

भारती पाठक इस बार निर्मल वर्मा की कहानियों से आपको परिचित कराते हुए मेरे मन में बहुत झिझक बनी है

Read more

एक थे मौलाना अहमदुल्लाह शाह फैज़ाबादी !

Dhruv Gupt आज हम याद करते हैं स्वाधीनता संग्राम के असंख्य विस्मृत नायकों में एक मौलाना अहमदुल्लाह शाह फैज़ाबादी को

Read more

स्मृति शेष/नहीं रहे ‘ज़िन्दगी कैसी है पहेली, हाय’ लिखने वाले योगेश

Naveen Sharma हिंदी सिनेमा में साठ और सत्तर के दशकों को गीतों के लिहाज से स्वर्णिम समय माना जा सकता

Read more

यात्रा संस्मरण – गोरमघाट

भारती पाठक यादों के एलबम का पन्ना पलटते ही ऐसी मनभावन स्मृतियां सजीव हो उठती हैं और मन मयूर उनमें

Read more

फिल्म रिव्यू: ” थप्पड़”

नवीन शर्मा फिल्म निर्देशक अनुभव सिन्हा ज्वलंत मुद्दों पर बेहद संवेदनशील और सधे हुए ढंग से फिल्म बनाते है। मुल्क

Read more

रेडियो एनाउंसर कब्बन मिर्ज़ा जिनके गाये दो गाने उन्हें अमर कर गए

Ashok Singh कब्बन मिर्जा की याद हमेशा मन में बनी रही है। वर्ली के आकाशवाणी भवन में कब्बन मिर्ज़ा कहा

Read more

भारत में सिनेमा की नींव रखने वाले धुंडीराज गोविंद फाल्के

नवीन शर्मा भारत में सिनेमा की नींव रखने वाले दादा साहेब फाल्के का नाम धुंडीराज गोविंद फाल्के था। उन्होंने काफी

Read more

जब बेग़म अख्तर के लिए महज तीन मिनट में नज्म लिख दी जाँ निसार अख़्तर ने

नवीन शर्मा ऐसा माना जाता है की जब कोई दीया बुझने वाला हो तो उसके ठीक पहले उसकी लौ सबसे

Read more