दिशा (1990): रोजगार की तलाश में पलायन करते मज़दूरों के दर्द को उभारती बेहतरीन फिल्म

Balendushekhar Mangalmurty 1990 में रिलीज़ हुई फिल्म ” दिशा” बम्बई के हिंटरलैंड ( hinterland) से रोजगार की तलाश में बम्बई

Read more

सुसमन फिल्म (1987): औद्योगीकरण के चलते हथकरघा बुनकरों की दुर्दशा बयां करती फिल्म

Balendushekhar Mangalmurty 1987 में श्याम बेनेगल ने आँध्रप्रदेश के पोचमपल्ली जिले के हथकरघा कारीगरों पर एक फिल्म बनायी थी, फिल्म

Read more

औरत की खरीद बिक्री की सच्ची घटना पर आधारित फिल्म “कमला”(1984)

Balendushekhar Mangalmurty 1984 में फिल्मकार जगमोहन मुंद्रा ने मार्क जुबेर, शबाना आज़मी और दीप्ति नवल को लेकर एक फिल्म बनायी

Read more

1950 के दशक में पश्चिम भारत में चले स्वाध्याय मूवमेंट पर आधारित बेनेगल की फिल्म “अंतरनाद” (1991)

Balendushekhar Mangalmurty श्याम बेनेगल ने आंदोलनों पर फ़िल्में बनायी हैं. उन्होंने 1976 में गुजरात के खेड़ा जिले में अमूल के

Read more

पेस्टन जी (1988): बम्बई के पारसी समुदाय पर बनी एक यादगार फिल्म

Balendushekhar Mangalmurty हिंदी मेनस्ट्रीम फिल्मों में जब जब पारसियों का चित्रण किया गया है, अधिकाँश मौकों पर उन्हें मज़ाकिया तरीके

Read more

उफनती गंगा में सूअरों को पार कराने का दृश्य नसीर और शबाना के अभिनय की ईमानदारी की पराकाष्ठा है !

Balendushekhar Mangalmurty 21 मई 1984 को गौतम घोष की फिल्म “पार” रिलीज़ हुई, जिसने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी

Read more

“एक डॉक्टर की मौत” दीमक लगे सिस्टम की जीत है और डॉ दीपांकर रॉय के सपनों की हार है!

Balendushekhar Mangalmurty 80 के दशक के अंत होते होते “आशिक़ी” और “क़यामत से क़यामत तक” जैसी किशोरवय के प्रेम पर

Read more

अंकुर से गॉडमदर तक शबाना आजमी का शानदार सफर

नवीन शर्मा शबाना आजमी हिंदी सिनेमा की सबसे बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक हैं। शबाना ने 1973 में निर्देशक श्याम

Read more

अंकुर से गॉडमदर तक शबाना आज़मी का शानदार सफर; जन्मदिन पर विशेष

नवीन शर्मा शबाना आजमी हिंदी सिनेमा की सबसे बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक हैं. शबाना ने 1973 में निर्देशक श्याम

Read more